आई दिवाली आई

दशहरा गया दिवाली आई
हो गई घर की साफ-सफाई
व्हाट्सएप्प और फेसबुक पर
लोग देने लगे बधाई
आई दिवाली आई
खुशियों की सौगात लाई

देखकर दुकानें दुल्हन सी सजी-धजी
मैं भी सरपट दौड़ी-भागी बाजार गई
खरीद लाई नये लत्ते-कपड़े घर भर के
अब कैसे कहूँ बड़ी कमरतोड़ है महंगाई
देख खुश हुई मुरझाये चेहरों की रौनक
बेरौनक बाजार में रंगत छाई
आई दिवाली आई
खुशियों की सौगात लाई

लगी है घर-दफ्तर की भागम-भाग
पर लक्ष्मी पूजन सामग्री भी लाना है
दीए, खील-बताशे, मिठाई, बम-पटाखे
उफ! लंबी सूची, पकवान भी बनाना है
दीपक बन उजियारा फैलाओ जग में
बात ये बड़े-बुजुर्गो ने है बताई
आई दिवाली आई
खुशियों की सौगात लाई

सबकी अपनी-अपनी दिवाली
सबके अपने-अपने ढँग हैं
धूम-धड़ाका देख तमाशा
जाने छिपे कितने रंग हैं
सबका अपना हिसाब-किताब यहाँ
सीधा हो या जुआड़ी-नशेड़ी भाई
आई दिवाली आई
खुशियों की सौगात लाई


ज्योति पर्व का प्रकाश आप सभी के जीवन को सुख, समृद्धि  एवं वैभव से आलोकित करे, इसी शुभकामना के साथ...... कविता रावत




SHARE THIS

Author:

Previous Post
Next Post
October 27, 2016 at 10:09 AM

आपकी लिखी रचना "पांच लिंकों का आनन्द में" शुक्रवार 28 अक्टूबर 2016 को लिंक की गई है.... http://halchalwith5links.blogspot.in पर आप भी आइएगा....धन्यवाद!

Reply
avatar
October 27, 2016 at 10:13 AM

दीप पर्व की शुभकामनाएं ।

Reply
avatar
October 27, 2016 at 11:43 AM

दीपावली की शुभकामनाएं .

Reply
avatar
October 27, 2016 at 12:47 PM

दीपावली की शुभकामनाएं

Reply
avatar
October 27, 2016 at 1:31 PM

सुन्दर ........
दिवाली की शुभकामना..

Reply
avatar
October 27, 2016 at 3:59 PM

आपको सूचित करते हुए हर्ष हो रहा है कि- आपकी इस प्रविष्टि के लिंक की चर्चा कल शुक्रवार (28-10-2016) के चर्चा मंच "ये माटी के दीप" {चर्चा अंक- 2509} पर भी होगी!
दीपावली से जुड़े पंच पर्वों की
हार्दिक शुभकामनाओं के साथ।
डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक'

Reply
avatar
October 27, 2016 at 5:04 PM

आई दिवाली आई
खुशियों की सौगात लाई
आपको भी बधाई,बधाई
बधाई!

Reply
avatar
October 27, 2016 at 7:26 PM

दीपावली की शुभकामनाएँ

Reply
avatar
October 27, 2016 at 7:38 PM

बहुत सुन्दर ... दिवाली आती है तो सफाई के बहाने बहुत कुछ पुराना भी मिल जाता है ... सबकी अपनी अपनी दिवाली ... आपको भी बहुत शुभकामनायें ...

Reply
avatar
October 27, 2016 at 11:15 PM

आपकी इस पोस्ट को आज की बुलेटिन ’अहिंसक वीर क्रांतिकारी को नमन : ब्लॉग बुलेटिन’ में शामिल किया गया है.... आपके सादर संज्ञान की प्रतीक्षा रहेगी..... आभार...

Reply
avatar
October 28, 2016 at 12:04 PM

मेरे साथ भी हुआ है कुछ चीजे इस साल खोई अगले साल मिली....तभी दिवाली की सफाई बहुत जरूरी है सफाई के बहाने बहुत कुछ पुराना भी मिल जाता है .....दीपावली की शुभकामनाएं कविता दीदी

Reply
avatar
October 28, 2016 at 2:52 PM

वाह . बहुत उम्दा,सुन्दर व् सार्थक प्रस्तुति

मंगलमय हो आपको दीपों का त्यौहार
जीवन में आती रहे पल पल नयी बहार
ईश्वर से हम कर रहे हर पल यही पुकार
लक्ष्मी की कृपा रहे भरा रहे घर द्वार

Reply
avatar
October 29, 2016 at 5:26 PM

सुंदर रचना ।
दीप-पर्व की शुभकामनाएँ ।

Reply
avatar
October 29, 2016 at 5:36 PM

बहुत अच्छी कविता
दीपावली की ढेर सारी शुभकामनाएं।

Reply
avatar
October 31, 2016 at 9:33 AM

बहुत अच्छा शब्दचित्र दीप-पर्व का... आपको परिवार सहित शुभकामनाएँ!

Reply
avatar
October 31, 2016 at 8:56 PM

सुन्दर शब्द रचना
दीपावली की शुभकामनाएं .
http://savanxxx.blogspot.in

Reply
avatar
November 3, 2016 at 12:28 PM

विलम्बित दीप पर्व की शुभकामनाये।

Reply
avatar
November 4, 2016 at 5:01 PM This comment has been removed by the author.
avatar
November 4, 2016 at 5:02 PM

aapko bhi happy diwali.......

please also visit for Hindi Website

http://www.achhiadvice.com/

Reply
avatar