हिजड़ा चुदाई वीडियो

एक्सएक्सएक्स 2015

एक्सएक्सएक्स 2015, मैंने भी उसकी बात मान ली और एक आखिरी बार उसकी चूचियों को दबाते हुए उसकी स्कर्ट के ऊपर से उसकी चूत को अपनी मुट्ठी में दबा दिया। इस के साथ ही विनोद ने मेरी चूत के रस में भीगा हुआ अपना लंड एक दम खैंच कर बाहर निकाला.और मेरी कमर पर अपने होंठ रख कर पीछे से मेरे शोल्डर और कमर को आहिस्ता आहिस्ता किस करना शुरू कर दिया.

चारपाई पर ज़ाकिया के लेटते ही मैंने उठकर उसकी टांगों को अपने हाथों में थाम कर खोला और उसकी चूत को देखने लगा | तो आधी रात के वक़्त अपनी अम्मी को पहली बार यूँ बिना दुपट्टे के अपने साथ एक ही पलंग पर बैठा देखकर मेरे जिस्म में गर्मी और लौड़े में जोश आने लगा था |

मेरी बात सुनते ही मेरा असल शौहर यासिर एक फर्माबरदार बच्चे की तरह मेरी बात पर अमल करते हुए कमरे के एक कोने पर पड़े हुए सोफे पर जा बैठा. एक्सएक्सएक्स 2015 रानी- अरे बाबूजी.. मैं शहर में रह लूँगी.. और हाथ-पाँव तो क्या.. मैं पूरे बदन की ऐसी मालिश करना जानती हूँ कि सेठ खुश हो जाएगा.. बस आपकी बड़ी दया होगी.. मुझे काम पर लगवा ही दो..

सेक्सी वीडियो दिल्ली

  1. विजय- भाई रानी कैसी रहेगी.. वो उमर में भी छोटी है और माल भी मस्त है.. साजन तो उसको देखते ही लट्टू हो जाएगा..
  2. रंगीला- चुप रहो.. ज़्यादा बनो मत और जब तक मेरी बात साजन से नहीं हो जाती.. अपना मुँह बन्द रखना.. समझे.. नहीं तो सारे किए कराए पर पानी फिर जाएगा.. अब जाओ यहाँ से.. ब्लू सेक्सी इंडिया
  3. जब मैं ऊपर अपने बेडरूम में पहुँची तो देखा कि अब बात हद तक बढ़ गयी थी। राजीव पलंग पर पूर्ण नग्नावस्था में लेटा हुआ था और उसका लंड शान से झंडे जैसा सिर उठाकर खड़ा था। मैंने फटाफट अपने कपड़े उतारे और उसके उस महाकाय लंड का चुंबन लिया। यह कंडोम मैंने एक रात पहले ही अपनी बहन संध्या को चोदने के लिए यूज़ किया था और चुदाई के बाद उतार कर जल्दबाजी में अपनी बहन के पलंग के नीचे फैंक दिया था |
  4. एक्सएक्सएक्स 2015...मगर हक़ीकत ये थी. कि विनोद से एक बार चुदने के बाद मैने पिछले एक महीने में ना जाने कितनी दफ़ा उस के लौडे को याद कर के अपनी चूत की आग को अपने हाथों से ठंडा करने की नाकाम कोशिश की थी. आँखे खुलते ही मुझे यूँ महसूस हुआ कि नींद के आलम में मेरा हाथ इस वक्त मेरी चूत पर है. और ये ख्वाब देखते हुए में अपनी चूत से खेलने में मसरूफ़ हूँ.
  5. जेम्स के लौड़े से तेज पिचकारी निकल कर रानी की चूत की दीवार पर लगने लगी.. जिसके साथ रानी की चूत भी झड़ गई। अवी- अरे पापा का क्या है उनके संबंध तो सीधे एसपी से है वह जब चाहे जहा चाहे ट्रान्स्फर भी ले सकते है या ड्यूटी भी

ಸೆಕ್ಸ್ ಫೋಟೋ ಸೆಕ್ಸ್

मुझे छोड़ने के दौरान विनोद को ना जाने एक दम किया सूझी. कि मेरी चूत में लंड डाले डाले वो एक दम मुझे अपनी गोद में उठाए हुए बिस्तर से उठ कर कमरे के फर्श पर खड़ा हो गया.

मेरी खुद सुपुर्दगी के इस अंदाज़ को देखते हुए विनोद मज़ीद जोश में आया. और अब वो अपनी पूरी ताक़त से मेरी फुद्दि में अपने बड़े लंड को पेलने में मशगूल हो चुका था. साजन की बात से विजय को बड़ा गुस्सा आ रहा था.. मगर रंगीला ने उसके हाथ को दबा कर उसको चुप रहने का इशारा किया।

एक्सएक्सएक्स 2015,तुम्हारे किचन से उठकर आने के बाद से अब तक मैं यही बात सोचती रही हूँ, कि तुमको अपनी बहन के साथ यह सब कुछ नही करना चाहिए था अफ़ताब मेरी बात के ज्वाब में अम्मी ने अपनी नज़रें ऊपर करते हुए मेरी आँखों में देखा और मुझसे ट्यूबवेल पर मेरी और संध्या की चुदाई की बात दुबारा स्टार्ट कर दी |

मॉम- आई एम सॉरी बेटा.. प्लीज़ मुझे माफ़ कर दो.. मैंने तुम्हें मारा.. तेरे पापा को ये बात मत कहना.. वो नाराज़ होकर कहीं चले जाएँगे.. बेटा मेरी तो लाइफ बर्बाद हो गई। अब अगर तेरे पापा चले गए तो हम सब की जिंदगी बर्बाद हो जाएगी। तू अभी बच्ची है.. भूल जा सब.. किसी को कुछ मत कहना।

ओहो, इतना परेशान क्यूँ होता है, अभी साफ़ कर देती हूँ। इतना बोलकर आंटी ने अपनी उँगलियों से मेरे सीने पे गिरा हुआ रस उठा कर मेरी आँखों में देखा और फिर अपनी उँगलियों को मेरे होंठों पे लगा दिया।என்னோட செக்ஸ் வீடியோ

और अपनी साँस रोके अपनी जवान ,गरम और प्यासी बीवी की एक दूसरे मर्द के साथ की जानी वाली रंग रलियों को हवस भरी नज़रों से देखने में मसरूफ़ हो गया. विनोद के अनकट लंड ने एक ही दफ़ा में मेरी चूत को अपना दीवाना बना लिया था. कि अब हक़ीकत में मेरे शौहर यासिर का लंड अब मेरी प्यासी फुद्दि की प्यास बुझाने से कसीर था.

काम्या- ओह्ह.. अब परेशान मत हो आप.. वो जल्दी आ जाएंगे और आप भी ना.. जब आपको पता है ये बच्चे लापरवाह हैं तो क्यों कोई ज़मीन इनके नाम पर लेते हो।

ज़रा जल्दी से इधर मेरे पास आना यासिर अपने दिमाग़ के कोने में आने वाले इस ख्याल से गरम होते हुए मेरे मुँह से बे इकतियार ये अल्फ़ाज़ खुद ब खुद निकल पड़े.,एक्सएक्सएक्स 2015 मैंने कोने से एक चटाई निकाली और बिस्तर के बगल में नीचे फर्श पे बिछा दिया। फिर एक मोटी सी चादर लेकर चटाई के ऊपर डाल दी और उस पर बैठ गया।

News