बंदर के सेक्सी वीडियो

ತಮಿಳು ಸೆಕ್ಸ್ ಮೂವಿ

ತಮಿಳು ಸೆಕ್ಸ್ ಮೂವಿ, रज़िया की आँखें नशीली हो जाती हैं, बदन में अकड़न सी होने लगती है। जवान मर्द के पास उसे भी बहुत अच्छा महसूस हो रहा था। रज़िया की आँखें बंद थी और वो अपने जीशान के लण्ड को अपनी चूत की गहराईयों में महसूस करके जन्नत में पहुँच चुकी थी।

तभी प्लान के मुताबिक माँ ने अपनी नाईटी हल्का सा खींच कर अपनी बुर खुजलाने लगीं और ऐसे बैठ गईं कि दीदी को उनकी बुर दिखाई दे। रज़िया उसकी छाती पर के घने बालों में अपने उंगलियाँ डालकर उसके गाल को चूमने लगती है-क्या बात है मेरा शेर तो बड़ी जल्दी थक गया है?

उसने ठेंगा दिखाते हुए कहा,'' बड़े आये लेने वाले !'' और फिर मेरे अभी तक खड़े लन्ड को ऊपर से नौच कर भाग गई। ತಮಿಳು ಸೆಕ್ಸ್ ಮೂವಿ अनुम अपने दोनों पैर जीशान के लिए, अपने शौहर के लिए, खोल देती है, और जीशान अपनी गुलाबी जीभ से अनुम की बिना बाल वाली चमकती हुई चूत को चूमने चाटने कुरेदने लगता है-गलपप्प-गलपप्प।

जिंदल कंपनी का मालिक कौन है

  1. हाये मेरी जान... सब सुन लिया तूने? आजा लिपट के लेट जा, आज तेरा स्वाद चख लूँ... मेरे ये कहने पर वो शरमाया!
  2. सोफिया बहुत खुश थी अपनी आज़ादी को लेकर, मगर कहीं ना कहीं उसके दिल में अपने भविष्य को लेकर अब भी उथल पुथल ज़रूर थी। हिंदी पिक्चर बीएफ बीएफ
  3. शीबा जो अनुम के रूम में बैठी सब सुन रही थी। उसे पता चल चुका था की वो अपने नाना का बीज है। और अमन उसकी अम्मी को भी चोद चुका है। वो अमन से नाराज तो थी और गुस्सा भी। पर अब एक तरह से वो कुछ हद तक शांत हो गई थी। सोफिया-नहीं मैंने कहा था ना मुझे हमेशा अपने अंदर चाहिए गलपप्प-गलपप्प… वो जीशान के आंडो को मरोड़ती हुई लौड़े को मुँह में चूसने लगती है। आखिरकार, भाई का लण्ड था, बहन के मुँह जाने के बाद कितना देर चुप रहता? उसे झड़े हुए बस कुछ ही पल हुये थे मगर लौड़ा था की खड़ा ही रहने लगा था।
  4. ತಮಿಳು ಸೆಕ್ಸ್ ಮೂವಿ...मुन्नी बोली- सुन, तू एक काम क्यों नहीं करती? आज रात तू अपने ससुर के साथ अपनी गर्मी क्यों नहीं निकाल देती? तो आज मैं सब कुछ करूंगा !'' कहते हुए मैंने उसकी चूचियों को चूसना आरम्भ कर दिया। उसका सीना मेरे थूक भीग गया। वह वहीं लेट गई और अकड़ने लगी।
  5. अमन को अब सोफिया नहीं बल्की सामने रज़िया दिखाई दे रही थी। वो ये भूल गया था कि सोफिया उसकी अपनी सगी बेटी है, जो उसपे दिल से भरोसा करती है। पर मर्द की फ़ितरत भी उस चिड़िया की तरह होती है। जहाँ भी शख्स-ए-गुल देखी झूला डाल देती है। रजिया-अमन, मैं जानती हूँ कि वो हमारे साथ हुआ वो बहुत बुरा हुआ। मैं पिछले तीन महीने से देख रही हूँ कि तुम फैक्टरी जाते हो और फिर अपने रूम में बंद हो जाते हो। तुम अपने अब्बू का सपना पूरा करना चाहते हो पर एक सबसे बड़ी जिम्मेदारी वो तुम नहीं पूरी कर रहे हो उसके बारे में भी थोड़ा सोचो ना…

सेक्सी वीडियो टार्जन

रज़िया-देख अनुम बेटी , मैं बस तुझे खुश देखना चाहती हूँ , और मुझे तेरी खुशी जीशान के साथ दिखाई देती है।

अब इसको चटवा... उसके कहने पर मैने आकाश के मुह पर मुह रख कर रिशिकांत का नमकीन देसी वीर्य उसके मुह से अपनी ज़बान से चाटा! रिशिकांत की देसी जवानी तो उस शाम का बोनस थी! हम दोनो उससे मस्त हो गये थे! फ़िर हमने अपना अपना माल झाडा और कपडे पहन के वापसी का सफ़र पकड लिया! इसलिए हम दोनों बहनों ने खाना खा लिया। सुरलीन को दवाई देकर मैंने सुला दिया और ड्राइंग रूम में जाकर मैं डिस्कवरी चैनल देखने लगी। टीवी देखते देखते दस कब बजे, पता ही नहीं चला।

ತಮಿಳು ಸೆಕ್ಸ್ ಮೂವಿ,लुबना-कोई मुझसे बात करना पसंद नहीं करता, और जिसे मैं चाहती हूँ कि बात करूँ, वो मेरी तरफ देखता भी नहीं … वो वहाँ से ये कहकर अपने रूम में चली जाती है।

रीटा- अरे रमेश राजा… यह तो अभी शुरूआत है। आगे-आगे देखो कि तुम्हारा चुदक्कड़ बाप अपनी बहू को कैसे-कैसे चोदता है…

जीशान उसे खोलकर देखता है तो आँखें चौंधिया जाती हैं। वो अमन की पर्सनल फाइल थी और सभी पर्सनल दस्तावेज़ थे। पहला पेज देखते ही जीशान सदमे में पड़ जाता है, वो अमन और अनुम का निकाहनामा था।ब्लू फिल्म भेज दो हिंदी में

जीशान खड़ा हो जाता है। अनुम उसे अचानक खड़ा होते देखकर हैरत में पड़ जाती है। जीशान अनुम का हाथ पकड़कर बेड पर बैठा देता है और उसके चेहरे के सामने अपना मोटा खूबसूरत लटकता हुआ लण्ड ले आता है-इसे अपने मुँह में लो… दोपहर में खाना खाते समय माँ मेरे लंड को देखते हुए बोलीं- अभी वीनू के आने का टाइम हो गया है.. अब तू लुँगी लपेट ले.. वरना वीनू को अटपटा लगेगा.. रात में सोते वक़्त पलंग पर फिर से लुँगी उतार कर नंगे सो जाना..

अनुम-हाँ… कहकर वो नीचे सरकती जाती है और जीशान के लण्ड को अपने मुँह की गर्मी में लेकर उसे गीला करने लगती है-गलपप्प-गलपप्प… मैं पागल तो नहीं हो जाउन्गी ना जीशान ? गलपप्प…

जीशान और अनुम लुबना के साथ अमन विला की तरफ अपने कार में आ रहे थे। कार जीशान ड्राइव कर रहा था। उसके पास में लुबना बैठी थी और बैकसीट पर अनुम।,ತಮಿಳು ಸೆಕ್ಸ್ ಮೂವಿ उसकी आखों मे शरारत और शैतानियत दोनो थे. मैं समझ गया कि या तो मैं जैसा यह कहती हैं वैसा करूँ या फिर मस्टरबेट कर लूँ.. मैने अनुराधा की बात मानना ठीक समझा..

News